Vedic maths kya hai

नमस्कार दोस्तों, blogseva पर आपका स्वागत है। आज मैं आपको बताऊंगा Vedic maths kya hai।

बहुत से लोगों को maths मुश्किल लगती है, कई लोगों को इससे बहुत डर लगता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि वह कभी solution तक पहुंच ही नहीं पाते। उनको बड़ी बड़ी calculations और equations से डर लगता है।

आज मैं आपके लिए ऐसा तरीका लाया हूँ जिससे आप 10 min की calculation को 10 sec से भी कम में कर सकते हैं। 

इसका नाम है "Vedic Maths"। यह भारत में खोजा गया पर ज़्यादा लोगों को इसके बारे में पता नहीं है क्योंकि हम western countries से प्रभावित होते हैं। और वे देश Vedic maths का विरोध करते हैं ताकि भारत का नाम ऊँचा न हो जाये।

खैर, आज मैं आपको इसके बारे में सारी जानकारी दूंगा। अगर आपको लेख पसंद आये तो अपने दोस्तों के साथ ज़रूर share करें। चलिए जानते हैं Vedic maths kya hai।


Vedic maths kya hai

Vedic maths kya hai

Normal mathematical steps का इतेमाल करके, समस्याओं को हल करना कभी-कभी मुश्किल और समय लेने वाला होता है। लेकिन vedic maths की simple tricks और advance tricks का use करके, calculations बहुत तेज़ी से की जा सकती हैं।

Vedic maths नंबर और calculation को आसान और तेज़ तरीके से हल करने की technique है।  इसमें 16 sutra और 13 sub- sutra शामिल हैं जिनका उपयोग geometry, arithmetic, calculus, algebra, conics की समस्याओं के लिए किया जा सकता है।

Vedic maths को Indian mathematician  Jagadguru Shri Bharathi Krishna Tirthaji ने 1911 और 1918 के बीच खोजा था और अपनी किताब में लिखा था।

Veda एक संस्कृत शब्द है जिसका मतलब है ‘ज्ञान’


Vedic maths history

Shri Bharathi Krishna Tirthaji का जन्म March 1884 में Orissa राज्य के Puri गाँव में हुआ था। वह maths, science, humanities जैसे विषयों में बहुत अच्छे थे और संस्कृत भाषा में master थे। 

उनकी रुचि spiritual और meditation में भी थी। और जब वे Sringeri के पास के जंगल में meditation का अभ्यास कर रहे थे, तब उन्होंने vedic सूत्रों की खोज की।

उनका दावा है कि इन सूत्रों / techniques को उन्होंने वेदों से विशेष रूप से ‘RigVeda‘ से सीखा और जब वे 8 वर्षों तक ध्यान का अभ्यास कर रहे थे, तब उन्होंने indirectly उन्हें खोजा।

बाद में उन्होंने manuscripts पर sutra लिखे लेकिन वे खो गए। फिर 1957 में उन्होंने 16 सूत्रों को लिखा, जिसे Vedic maths नाम दिया गया और बाद में अन्य sutra लिखने का plan बनाया। लेकिन जल्द ही उनकी दोनों आंखों में मोतिया हो गया और 1960 में वह चल बसे।

Also Read: Call details kaise nikale


Vedic maths के फायदे 

Vedic maths निश्चित रूप से calculations को तेजी से हल कर सकता है। कुछ महापुरुष कहते हैं कि vedic maths की tricks का उपयोग करके आप simple तरीकों की तुलना में 10-15x तेजी से calculate कर सकते हैं। 

  • Normal maths से 1700% गुना तेज- यह इसे दुनिया का सबसे तेज बनाता है।
  • Maths के डर को पूरी तरह खत्म कर देता है। किसी बच्चे को math का डर है, high speed vedic maths calculate करने का एक मजेदार तरीका है बच्चों में interest पैदा करता है।
  • School में काफी बेहतर academic performance और result में नम्बर बढ़ सकते हैं। बस पहले question देखें और खुद पर विश्वास करें। 
  • हमारे दिमाग को तेज करता है, मानसिक चपलता और बुद्धि को बढ़ाता है।
  • आपकी speed और accuracy को बढ़ाता है।  खुद मानसिक calculator बनें। 
  • Numbers के लिए interest पैदा करता है।
  • आपके brain के right और left parts develop करता है। ज़्यादातर genius लोग solution निकालने के लिए brain के right part का उपयोग करते हैं।
  • मास्टर करने और implement करने में आसान।  इसे सीखने के लिए आपको बस table के knowledge की आवश्यकता है।

Vedic maths तकनीक/सूत्रों में तेजी से calculate के लिए maths की तरकीबें हैं और इसका उपयोग CAT, CET, SAT, Banking Exams आदि जैसे exams में किया जा सकता है।

Also Read: Students paise kaise kamaye


Vedic maths sutras

Vedic maths में 16 सूत्र हैं और 13 sub- सूत्र हैं।

SutraMeaning
1Ekadhikena Purvenaपिछले वाले से 1 ज़्यादा लेके
2Nikhilam Navatashcaramam Dashatahअगर सारे 9 हो और last 10 हो
3Urdhva TiryagbyhamVertically और crosswise
4Paravartya YojayetTranspose और adjust
5Shunyam Saamyasamuccayeजब sum same हो और 0 हो
6Anurupye Shunyamanyatअगर एक ratio है, तो दूसरा zero है
7Sankalana vyavakalanabhyamAddition और subtraction के ज़रिए
8PuranapuranabyhamCompletion के ज़रिए या non-completion
9Chalana KalanabyhamDifferences और Similarities
10YavadunamWhatever the extent of its deficiency
11VyashtisamasthiPart और Whole
12Shesanyankena CharamenaThe remainders by the last digit
13Sopaantyadvaya-mantyamUltimate और penultimate का दुगना
14Ekanyunena Purvena   पिछले वाले से एक कम
15Gunita SamuchayaSum का product और product का sum equal हैं
16Gunakasamuchyah Sum के factors और factors के sum equal हैं

Vedic maths examples

यह नीचे sutra हैं, इनको example के रूप में दिखाया गया है।

Tricks for squares

जो नंबर 5 से खत्म होते हैं। जैसे 25, 35, 85 आदि।

Vedic maths sutra

हमने नंबर लिया 85.

Step 1: पहले 5 × 5 = 25 करलें।

Step 2: अब 8 में 1 add करें = 9, दोनों को multiply करदें। 8×9 = 72

Step 3: ऊपर वाले step से जो number आये वह शुरू के नंबर बनेंगे। और step 1 से जो आये, वह आखिरी नंबर बन जाएंगे। So final answer है 7225.

ऐसे ही,

Square of 105

Step 1: 5 × 5 = 25

Step 2: 10 × 11 = 110

Step 3: दोनों को जोड़कर आया 11025 जो final answer है।

Also Read: Jio phone me game download kaise kare


Multiply 2 digit number

Vedic maths kaise sikhe

जैसे 12 x 41. 

Step 1: Unit digits को multiply करें। 2 x 1 = 2

Step 2: Tens digits को multiply करें। 1 x 4 = 4

Step 3: दोनों numbers के digits को cross multiply करें और add करदें। 1 x 1 + 2 x 4 = 9

Answer है 492.


Addition trick

जैसे 97 + 44.

Step 1: Closest 0 के पास ले जाएं। 97~100, 44~40.

Step 2: Add करें। 100 + 40 = 140.

Step 3: अब 97 छोटा है 100 से इसलिए 3 subtract करेंगे। 140 – 3 = 137.

Step 4: 44 बड़ा है 40 से इसलिए 4 add करना पड़ेगा। 137 + 4 = 141.

So, solution है 141.


Vedic maths kaise sikhe

Vedic maths को सीखने के कई तरीके हैं। शुरू- शुरू में यह मुश्किल लगेगा, पर practice करते- करते आसान लगने लगेगा। जैसे ही आप इसे सीख जाएँगे, तो आसानी से बड़ी- बड़ी calculations कुछ ही seconds में करने लगेंगे।

1. Online website

बहुत सारी online learning websites हैं जिनसे आप वैदिक गणित सीख सकते हैं। यह आपको हर step की detail बताएँगे और examples के साथ सिखाएंगे। 

इन websites पर आपको vedic maths sutra ही नहीं बल्कि उनके courses भी मिल जाएँगे। इन online courses को live teachers से सीख सकते हैं। 


2. Pdf, ppt

Pdf और ppt में offline learning का बहुत बड़ा फायदा है क्योंकि इनको बिना इंटरनेट कनेक्शन के कहीं पढ़ा जा सकता है और यह आपके फ़ोन में हमेशा saved रहेंगी।

आप इनको अपने दोस्तों और classmates के साथ share भी कर सकते हैं और इनका size भी कम होता है।

Also Read: Business shuru kaise kare


3. Youtube videos

Youtube videos में बहुत clarification हो जाएगी क्योंकि youtubers creative और मज़ेदार तरीके से सिखाते हैं और videos की मदद से सीखने में ज़्यादा समझ भी आता है। 

इनमें आप comments में उनसे questions भी पूछ सकते हैं और उनका पढ़ाया हुआ आप कभी नहीं भूलेंगे।


4. Books

आप online books (ebooks) या textbooks से पढ़ सकते हैं। यह पढ़ने का traditional method है और अगर आप self study के ज़रिए books से पढ़ते हैं तो काफी ज्यादा understanding बढ़ जाती है।

आप इन्हें amazon से order कर सकते हैं या google books से free में भी पढ़ सकते हैं।


Conclusion

मुझे उम्मीद है कि आप को इस से बहुत कुछ सीखने को मिला होगा और समझ आ गया होगा Vedic maths kya hai।

आपको यह article पसंद आया तो आप इसको अपने दोस्तों के साथ जरूर share कीजिएगा। 

आज हमने सीखा-

  1. Vedic maths kya hai
  2. Vedic maths kaise kare
  3. Fast calculation tricks in maths
  4. Vedic maths online classes
  5. Ganit ke sutra
  6. Vedic maths tricks
  7. Vedic maths ke fayde

आप का experience कैसा रहा आप उसे नीचे comment box में share कर सकते हैं और अगर आपको कोई doubt या problem है तो आप मुझसे नीचे comment box में पूछ सकते हैं या email कर सकते हैं।

मैं आपको जल्द से जल्द reply देने की कोशिश करूँगा। 

धन्यवाद……..।

Vedic maths kya hai और vedic maths sutra पढ़ने के लिए शुक्रिया।


FAQ (Frequently Asked Questions)

Vedic Maths for beginners? Vedic Maths meaning in Hindi

Vedic maths calculation करने का fast तरीका है जिसमें simple tricks का इस्तेमाल किया जाता है। यह competitive exams में बहुत काम आता है। इसको खोजने वाले ने बताया था कि उन्होनें थोड़ी जानकारी वेदों से भी ली थी इसलिए इसे vedic maths कहा गया है।

वैदिक गणित में 10 का प्रयुक्त नाम क्या है

वैदिक गणित के 10वे sutra का नाम है Yavadunam।

Vedic Maths sutras

Vedic maths के 16 sutra हैं। यह sutra simple tricks हैं। 16 sutra हैं-
1. Ekadhikena Purvena
2. Nikhilam Navatashcaramam Dashatah
3. Urdhva Tiryagbyham
4. Paravartya Yojayet
5. Shunyam Saamyasamuccaye
6. Anurupye Shunyamanyat
7. Sankalana vyavakalanabhyam
8. Puranapuranabyham
9. Chalana Kalanabyham 10. Yavadunam
11. Vyashtisamasthi
12. Shesanyankena Charamena
13. Sopaantyadvaya-mantyam
14. Ekanyunena Purvena
15. Gunita Samuchaya
16. Gunakasamuchyah

वैदिक गणित के उदाहरण? वैदिक मैथ्स ट्रिक्स इन हिंदी

Addition trick
जैसे 97 + 44.

Step 1: Closest 0 के पास ले जाएं। 97~100, 44~40.
Step 2: Add करें। 100 + 40 = 140.
Step 3: अब 97 छोटा है 100 से इसलिए 3 subtract करेंगे। 140 – 3 = 137.
Step 4: 44 बड़ा है 40 से इसलिए 4 add करना पड़ेगा। 137 + 4 = 141.
So, solution है 141.

Vedic maths is derived from which Veda

Vedic maths is partially derived from Rigveda. 

Leave a Comment