SSL kya hai? Free में SSL kaise lagaye?

नमस्कार दोस्तों, blogseva पर आपका स्वागत है। आज मैं आपको बताऊँगा ssl kya hai और free ssl kaise lagaye

अगर आप एक blogger हैं तो आपको पता ही होगा कि ssl का SEO में बहुत बड़ा हाथ होता है। यह high rank लाने में मदद करता है। 

वैसे तो normal sites को इसकी जरूरत नहीं पड़ती, उन्हीं को ज़रूरत पड़ती है जिन sites पर details enter करनी पड़ती हैं, पर फिर भी सभी को ssl रखना चाहिए। क्योंकि Google ने non- SSL sites पर Not Secure दिखाना शुरू कर दिया है।

इस article को मैंने बहुत simple भाषा में लिखा है ताकि आपको आसानी से समझ आ सके। इसलिए आप इसे आपने दोस्तों के साथ share कर सकते हैं ताकि उन्हें भी आसानी से समझ आ सके।

Also Read: Vpn kya hai?

तो चलिए जानते हैं ssl kya hai और free ssl kaise lagaye।


SSL Kya hai?

SSL(Secure Sockets Layer) एक ऐसी technology है जो internet connection और हमारे data को safe रखता है।

यह दो systems के बीच के connection को private बना देता है। यह दो systems हो सकते हैं- आप और website, आपका computer और wifi, आदि।

यह हमारे data को encrypt कर देता है(उसको उलझा देता है) जिससे hackers उसे समझ नहीं पाते और फिर उस data को जहाँ पहुँचना होता है, वहाँ decrypt कर देता है।(उसको वापिस जोड़ देता है)

एक साधारण उदाहरण- “मेरा नाम Aryan है।” यह बदल जाएगा इसमें- “igPEl3U4kWAuEz84/LuBJfifm2qyfZy+xWNiZuHvw8ATbyS+SK3eAKUeKd5ObQ==” 

हमारा data हो सकता है credit card number, password, address आदि। यह सब safe हैं ssl के कारण।

SSL को TLS (Transport Layer Security) भी कहा जाता है। TLS ssl का updated version है। SSL 1996 में ही बंद हो गया था, पर इसका नाम बहुत famous था इसलिए TLS को भी SSL कहते हैं।


SSL की पहचान

जब हम ssl लगाते हैं तो हमारे hosting server पर SSL certificate download हो जाता है। पर इसके इलावा भी कुछ चिन्ह हैं। 

SSL kya hai

जो site ssl इस्तेमाल करती है उसके url में https:// लिखा होता है। जो नहीं करती, उसमें सिर्फ http:// लिखा होता है।

HTTP (hyper text transfer protocol) का मतलब होता है कि हमारा data transfer हो सकता है। और जब उसके सामने “s” लग जाता है इसका मतलब उसपर ssl लग चुका है, मतलब वह data safely transfer हो सकता है।

SSL की details जैसे ssl certificate, issuing authority आदि lock symbol पर click करके मिल सकते हैं।

Also Read: Affiliate marketing kaise kare?


SSL certificate

SSL certificate एक ID card या badge की तरह है, जो बताता है कि किसी site पर ssl लगा हुआ है या नहीं। SSL certificate को CA(Certificate authorities) issue करता है।

SSL certificate पर सबसे ज़रूरी detail होती है Public Key। Public key बहुत सारे letters और numbers का combination होता है।

जब लोग अपनी info किसी site में भरते हैं, तो उनका device पहले check करता है कि उस site पर public key है या नहीं।

SSL certificate data transfer

अगर public key होती है, तो info transfer होता है। Public key उनके data को encrypt(उलझाती है) करती है।

फिर site के hosting पर एक private key होती है जो data को decrypt(जोड़ देती है) कर देती है।


Types of SSL certificate

  • Single domain– Single domain SSL सिर्फ एक domain के लिए होता है। मतलब website का एक page।
  • Wildcard– Wildcard SSL एक domain के लिए होता है जिसके अंदर बहुत सारे subdomains होते हैं, मतलब एक पूरी website। ज़्यादातर यही इस्तेमाल किया जाता है।
  • Multi domain– Multi domain SSL बहुत सारे domains के लिए होता है, मतलब बहुत सारी websites।

ऊपर सारे certificates अलग- अलग तरह की security check के साथ आते हैं।  जिसमें सबसे ज़्यादा security वाला certificate सबसे powerful होता है।

  • Domain validation– इसमें एक website owner को भरोसा दिलाना होता है कि वह उसका मालिक है।
  • Organization validation– इसमें CA(Certificate Authority) खुद website के मालिक को call करके जाँच- पड़ताल करते हैं।
  • Extended validation– इसमें website, website के मालिक की पूरी background, history check होती है। यह सबसे powerful SSL certificate होता है।

Also Read: Lockdown में online paise kaise kamaye


Free SSL kaise lagaye

SSL आपको अपनी hosting company से मिल सकता है। जैसे – BigRock, GoDaddy, Hostinger, Namecheap आदि। Hosting खरीदते समय इसे भी साथ में खरीद सकते हैं।

पर कुछ ऐसी companies हैं जहाँ से आप SSL certificate free में पा सकते हैं। 

जैसे- Let’s Encrypt, ZeroSSL, Cloudflare आदि।

ZeroSSL

Free में ssl लेने के लिए आपके पास hosting और domain होना ज़रूरी है। उसके बाद-

  1. Zerossl.com पर जाएँ।
  2. वहाँ अपना blog url डालें और अपना login id और password बनाएँ।
  3. फिर 90 day certificate चुनें। (3 महीने बाद आप फिर से apply कर सकते हैं)
  4. फिर Auto-Generate CSR को चुनें।
  5. उसके बाद free plan चुनें।
  6. Verification method choose करें। Email के ज़रिए करें आसानी से।
  7. Verification के बाद ZeroSSL menu में certificates पर click करें।
  8. वहाँ से SSL download कर लीजिए जहाँ आपको 3 keys मिलेंगी- CRT (certificate), KEY (private key), and CABUNDLE (Certificate authority bundle)।

अब hosting account पर आइए।

  1. आपकी keys एक zip file में computer पर download होंगी।
  2. उसे unzip करलें और keys को Open in Notepad करलें।
  3. फिर hosting के SSL/TLS menu में जाएँ और Manage SSL पर click करें।
  4. यहाँ आपको 3 keys के boxes मिलेंगे।
  5. अपनी keys की सारी info copy- paste करदें।
  6. उसके बाद Install पर click करें और आपका free SSL लग जायेगा।

Let’s Encrypt

  1. sslforfree.com पर जाएँ।
  2. फिर अपना domain url भरें और Create free SSL certificate पर click करें।
  3. उसके बाद आपको verification की 3 options मिलेंगी। किसी भी option से आप verify कर सकते हैं। (जैसे- Manual verification by uploading verification file to your domain)
  4. इसके आगे manually verify domain पर click करें जिसमें आपको verification के steps बताए जाएँगे।
  5. उसके बाद download ssl certificate पर click करें। Download होने से पहले आपको CSR पूछा जाएगा जो आप hosting server से ले सकते हैं या online csr tool से बना सकते हैं।
  6. इसके बाद आपका SSL certificate download हो जाएगा जिसमें 3 keys होंगी। CRT (certificate), KEY (private key), and CABUNDLE (Certificate authority bundle)।

अब hosting account पर आइए।

  1. आपकी keys एक zip file में computer पर download होंगी।
  2. उसे unzip करलें और keys को Open in Notepad करलें।
  3. फिर hosting के SSL/TLS menu में जाएँ और Manage SSL पर click करें।
  4. यहाँ आपको 3 keys के boxes मिलेंगे।
  5. अपनी keys की सारी info copy- paste करदें।
  6. उसके बाद Install पर click करें और आपका free SSL लग जायेगा।

Also Read: Dns kya hai? Simple explained


Conclusion

मैं उम्मीद करता हूँ आपको समझ आ गया होगा कि ssl kya hai?

आज हमने सीखा-

SSL kya hai?
SSL fullform
Free SSL kaise lagaye
Types of ssl certificates
SSL identification

अगर आपको कोई भी doubt है तो आप नीचे हमें comment करके पूछ सकते हैं। अगर आपको यह article पसन्द आय तो इसे अपने दोस्तों और प्रियजनों के साथ ज़रूर share करें।

धन्यवाद…।

Leave a Comment