How to write SEO friendly article in Hindi? SEO friendly article Kaise likhe ?

क्या आपको भी article लिखने में परेशानी हो रही है?क्या आपका blog भी इतनी मेहनत करने के बावजूद rank नहीं कर पा रहा? अगर हाँ, तो शायद मैं आपकी समस्या को जानता हूँ। इसलिए आज मै आपको बताऊँगा ब्लॉग पर seo friendly article kaise likhe |

नमस्कार दोस्तों, blogseva.com पर आपका स्वागत है। आज हम बात करेंगे कि seo friendly blog post kaise likhe in hindi

Google पर एक अच्छा rank पाने के लिए ब्लॉग पर seo friendly article लिखना बहुत ही ज़रूरी है |जब google के crawler bots हमारी website या blog को crawl करते हैं, तो वे seo friendly blog post को ही rank करते हैं जिससे उन्हें पता चलता है की आपके article का keyword क्या है |

इसलिए आज हम उन सभी points को देखेंगे जो एक ब्लॉग पर seo friendly article लिखने में मदद करते हैं और अगर आप इनका प्रयोग करते हैं तो आपका article देखते ही देखते थोड़े समय में खुद rank करने लगेगा।

यह जानकारी हमने अपनी मर्ज़ी से नहीं लिखी है, बल्कि यह तो Google ने खुद कहा है पर लोग अक्सर इन्हें नज़रअंदाज़ करते हैं और फिर बाद में पछताते हैं।

सबसे पहले हम आपको बताते हैं की seo kya hai? उसके बाद बताएँगे की blog ke liye article kaise likhe जिससे की आप जल्दी से rank कर सके |


SEO क्या है? SEO kya hai in hindi

seo friendly article kaise likhe

SEO का fullform है Search Engine Optimization | यह एक ऐसी technique है जिसकी मदद से आप google के द्वारा अपने ब्लॉग पर organic traffic ला सकते है |

SEO थोड़ा slow process है लेकिन अगर आप इसे ढंग से लम्बे समय के लिए अपने blog के लिए करते है तो आप google के first page पर rank कर सकते है |

SEO दो तरीके का होता है | एक होता है On page SEO और दूसरा Off page SEO | आपको अपनी website के लिए दोनों तरह के SEO का इस्तेमाल करना चाहिए जिससे वह google में जल्दी से rank कर सके |

Also Read :- How to do On Page SEO in hindi in 2020 ?( On Page SEO क्या है ?

Also Read :- Backlink kya hai aur kaise banaye?( बैकलिंक क्या है और कैसे बनाएँ?)


SEO friendly blog post kaise likhe ?

यह कुछ तरीके है जिससे आपको पता चलेगा की आप अपने ब्लॉग पर seo friendly blog post कैसे लिखे |

  • Keyword को Title में रखे
  • Keyword को Headings में रखे
  • URL को छोटा रखे
  • Keyword को Meta Description में डाले
  • Site Speed अच्छी करे
  • Keyword Density को 1%-2% रखें
  • LSI Keywords का प्रयोग करे
  • Alt text for images
  • Internal Linking जरूर करे
  • Optimize Image
  • Social Share Buttons का इस्तेमाल करे
  • Article को 1500+ words का लिखे

अब इन सभी points को गहराई से समझते हैं और जानते है how to write seo friendly article in hindi


SEO friendly article kaise likhe? Seo friendly article कैसे लिखें?

अब जितने भी points ऊपर दिए गए है उनको थोड़ा detail में समझने की कोशिश करते है जिससे पता चले की blog ke liye article kaise likhe |

Title

Good title से मेरा मतलब है अपने title को आकर्षित और descriptive बनाना क्यूंकि लोग किसी भी article को उसके title को देख के पढ़ते है |

उसको देखकर ही पता लगना चाहिए कि article में क्या बात होने वाली है, और ऐसा होना चाहिए कि article को पढ़े बिना रहा न जाए। यह max 60 शब्दों का हो सकता है।अगर आप अपने title को बेहतर बनाना चाहते है तो उसके लिए आप अपने title में 

  • Numbers का इस्तेमाल कीजिए
  • Keyword का इस्तेमाल ज़रूर कीजिए

Headings & Subheadings  

आपको अपने article में H2 और H3 headings का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए क्यूंकि Google के crawler bots headings को ज़रूर check करते हैं और इससे आपके blog का SEO भी अच्छा होता है |

ध्यान रखे की लोग भी article में लिखी headings और subheadings को ध्यान में रख के ही बाकी का article पढ़ते है | इसलिए अपनी headings को article के relevant ही रखे |

Also Read :- 9+ Keyword research tools for Hindi Bloggers | हिंदी ब्लोग्गेर्स के लिए keyword research tools

Main heading में हमेशा H1 size इस्तेमाल करें और उसे पूरे article में सिर्फ एक ही बार इस्तेमाल करे | कोशिश करे की आप अपनी ज़्यादातर headings में LSI keywords का इस्तेमाल करे |LSI keywords के बारे में हम आपको आगे बताएँगे |

URL / Permalink

URL हमारे page का address होता है। हर page का URL अलग होता है। 

URL का अच्छा होना SEO के लिए बहुत जरूरी होता है | आपको कोशिश करनी चाहिए की आपका URL जितना छोटा हो , वो उतना ज्यादा अच्छा है | आपको अपने हर blog post के URL में उससे सम्बंधित keyword का प्रयोग जरूर करना चाहिए |

Also Read :- [Comparision] Blogger vs WordPress in Hindi | ब्लॉगर या वर्डप्रेस :कौन है बेहतर ?

ध्यान रखे की अपने URL में सिर्फ main keyword का इस्तेमाल करे |

Meta Description

seo friendly article kaise likh

Meta description आपके article के title के नीचे दिखता है। यह हमारे article का introduction दिखाता है और आपको इसमें अपने article से related keywords का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए क्यूंकि यह seo friendly blog post लिखने में मदद करता है ।

Also Read :- Google sandbox kya hai?|What is Google Sandbox in Hindi?

हम इसे बदल कर अपनी मर्ज़ी से article का वर्णन कर सकते हैं। यह दिखने में आकर्षित होना चाहिए क्योंकि title के बाद लोग इसे ही पढ़ते हैं और decide करते हैं कि article में उन्हें अच्छी जानकारी मिलेगी या नहीं। यह max 160 शब्दों का होता है।

Site Speed

Site speed google में rank करने के लिए सबसे important factors में से है। आप अपनी site की speed gtmextrix.com पर check कर सकते हैं। आपकी website की speed जितनी ज्यादा, वह उतना कम loading time लेगी ।

Google के हिसाब से अगर आपकी वेबसाइट की speed 3 seconds से ज्यादा है तो आप अपना बहुत सारा traffic lose कर सकते है |

Loading time को 4 हिस्सों में बाँटा जा सकता है-

  1. Perfect- 1 second में
  2. Good- 1 से 3 second में
  3. Average- 3 से 7 second में
  4. Poor- 7 second से ज़्यादा

हमारा लक्ष्य अपनी website की speed को ज्यादा से ज्यादा करने का होना चाहिए जिससे वह google में rank कर सके | ।

Keywords

Keyword वह होता है जो हम Google पर search करते हैं। यह कुछ भी हो सकता है। ध्यान रखे की आपके article की keyword density 2 % से ज्यादा न हो , नहीं तो google आप पर penalty भी लगा सकता है |

  • आपको अपने article के पहले paragraph में keywords का भरपूर इस्तेमाल करना चाहिए। 
  • Keywords 3 तरह के होते हैं, short tail, medium tail और long tail।
  • हमें हमेशा long tail keywords को इस्तेमाल करना चाहिए जिनपर keyword difficulty कम हो जिससे हम google पर आसानी से rank कर सके ।

Also Read :- Keyword क्या है और Keyword Research कैसे करे in 2020 ? (Keywords in Hindi )

LSI Keywords

LSI keywords होते हैं main keyword से मिलते जुलते keywords। इनका इस्तेमाल इसलिए करते हैं ताकि हमारा article natural लगे और हमें बार-बार main keyword का प्रयोग भी न करना पड़े ।

इनको इस्तेमाल कर हम अपने article को multiple keywords पर rank कर सकते हैं, अगर कोई इन्हें search करता है तब भी हमारा article google में rank करता है।

LSI keywords को ढूँढ़ना आसान है, कोई भी keyword search करें, सबसे नीचे आपको related searches का column दिखेगा, वे सब lsi keywords हैं।

Alt text for images

कोई भी search engine image को नहीं देख सकता है |आपको search engine bots को बताना पढता है की वो image किस चीज़ की है | इसलिए Google के bots इस alt text को crawl करते हैं ताकि image को समझ सकें |

Also Read :- Blog के लिए blog niche कैसे चुने ? | 70 Blogging niche ideas हिंदी में !!

यह तब फायदेमंद होता है जब हमारी images load नहीं होती, तब उनकी जगह यह text दिखता है। इस text में हम image को describe करते हैं।

आपको alternate text में भी अपने main keyword का इस्तेमाल ज़रूर करना चाहिए । इससे आपका article google में आसानी से rank हो पाएगा और आपके पास google images से भी traffic आएगा |

Internal Linking

Internal linking का मतलब होता है अपने article में अपने ही blog के किसी दूसरे article को link देना। 

  • इससे हम लोगों को ज़्यादा जानकारी दे सकते हैं और हर article पर ट्रैफिक बढ़ा सकते है |
  • अगर हमारा एक article rank करता है तो दूसरा article जो interlinked है , वह भी google पर rank होने लगता और उस पर भी traffic बढ़ने लगता हैं।

हमें सिर्फ internal linking ही नहीं बल्कि दूसरे blogs को भी external link देना चाहिए अगर उनके पास अच्छी जानकारी है । हमें हमेशा अपने reader को full satisfaction देनी चाहिए।

External links देने के और भी बहुत से फायदे होते है |

Optimize Image 

Image optimization का मतलब है Image का storage size कम करना। Image का size ज़्यादा होने की वजह से loading speed कम हो जाती है जिससे आपकी ranking घट सकती है ।

साथ ही में हमें हमेशा non copyright images ही लेनी चाहिए या उनको खुद design करना चाहिए।आप images design करने के लिए canva.com का इस्तेमाल कर सकते है |

सिर्फ image ही नहीं हमें अपने blog को आकर्षित बनाने के लिए अच्छी theme का इस्तेमाल भी ज़रूर करना चाहिए। यह ज़्यादातर free में ही मिल जाती है पर अगर affordable दाम में अच्छी theme मिलती है तो खरीद लेनी चाहिए।

Social Share Buttons

अगर किसी को हमारा article बहुत पसंद आता है और वह उसे share करना चाहता है तो हमें उसके भले काम में ज़रूर प्रोत्साहन देना चाहिए। 

जब भी कोई हमारा article share करता है तो google के पास website के प्रति positive response जाता है | उसे लगता है की हमारा article अच्छा है इसलिए फिर वह उसे rank कर देता है |

हमें share buttons देने चाहिए, जितने ज्यादा share, उतने ज़्यादा views।

Word Limit

आपका article जितना ज्यादा लंबा होगा , उतना ज्यादा बेहतर होगा | एक research के अनुसार यह पाया गया है की Google के first page पर rank करने के लिए आपका article 1900+ words का होना चाहिए |

लम्बे article लिखने के बहुत सारे फायदे होते है | अगर किसी भी user को किसी topic पर पूरी जानकारी चाहिए होती है तो वो लम्बे article पढ़ना पसंद करता है | दूसरी बात यह है की आपका content जितना ज्यादा होगा , आप उसमे उतने ज़्यादा keywords का इस्तेमाल कर सकते है |

Keyword stuffing

ऊपर हमने keywords की काफी बात करी है। हमें keywords ज़रूर इस्तेमाल करने चाहिए पर उनको एक limit में इस्तेमाल करना चाहिए। कोशिश करे की आप अपने article में 2% से ज्यादा keywords का इस्तेमाल न करें |

अगर आप इन्हें ज़्यादा इस्तेमाल करते हैं तो article में keyword stuffing हो सकती है जिससे Google को आपका article spam लगेगा और वह सीधा आपको ban कर देगा।

Site structure

seo friendly article kaise likhe

Article के url के लिए site structure होना बहुत ज़रूरी है। Google हमारे blog को check करता है कि लोग इस पर आसानी से content ढूँढ सकते हैं या नहीं।

इसलिए हमें headings, sub headings, keywords, description का अच्छे से इस्तेमाल करना चाहिए।

Update content

अपने article को निरंतर update करते रहिए। पुराने content से ज़्यादा google नए content को आगे रखता है। 

पुराने content में जानकारी कम होती है और काफी data बदल चुका होता है, अगर readers को उसके बारे में पहले से पता होता हो तो वे उसी समय back दबाते हैं। इससे bounce rate बढ़ जाता है।

Also Read :- Bounce rate क्या होता है? Bounce Rate क्यों बढ़ जाता है और Bounce Rate कम कैसे करें ?

इन सभी तरीकों को इस्तेमाल कर आसानी से blog par seo friendly article लिखा जा सकता है।आपको इन सभी points का ध्यान रखना है, अगर आप seo friendly article नहीं लिख रहे थे , तो अब लिख पाएंगे ।


निष्कर्ष (Conclusion)

मैं उम्मीद करता हूँ दोस्तों कि आपको समझ आ गया होगा कि ब्लॉग के लिए seo friendly article kaise likhe। 

अगर आप ऊपर दिए गए सभी तरीको का इस्तेमाल करते है तो मै दावे के साथ बोल सकता हूँ की आप समझ गए है की blog ke liye article kaise likhe |

आपको यह चीज़ अब तक पता चल गयी होगी की अगर आपको google के firstpage पर rank करना है तो आपको seo friendly blog post लिखना बहुत ज़रूरी है |

अगर आपको यह article पसंद आया तो इसे ज़रूर share कीजिए। अगर आपका कोई दोस्त या सहकर्मी जिनको seo friendly article लिखने में दिक्कत हो रही है ,आप उन्हें यह भेज सकते हैं। 

यह पढ़कर आपका क्या अनुभव था इसे हमारे साथ नीचे comment box में ज़रूर share कीजिए और अगर आपका कोई भी सवाल है तो आप निःसंदेह हमसे पूछ सकते हैं।

धन्यवाद…..।

Leave a Comment