Keyword क्या है और Keyword Research कैसे करे in 2020 ? (Keywords in Hindi )

नमस्कार दोस्तों, आज मैं आपको बताऊंगा की keyword kya hai और कैसे इसका इस्तेमाल SEO के लिए बेहद ज़रूरी है | हम आज keyword research kaise kare पर भी बात करेंगे | अगर आप एक blogger है तो आपने ये ज़रूर सुना होगा की keywords बहुत important है blog rank करवाने के लिए | और अगर आप इसी सवाल का जवाब ढूंढते हुए आये हो तो post में आपके सभी सवालों का जवाब मिल जायेगा | Keyword kya hai और Keyword research kaise kare जानने के लिए post को पूरा पढ़े |

अगर आप एक beginner है तो घबराने की कोई ज़रुरत नहीं है | शुरू में ये थोड़ा मुश्किल विषय लगता है लेकिन समय के साथ आपको आसान लगने लगेगा | बस एक बात समझ लीजिये की blog /website पर traffic लाने के लिए keyword kya hai जानना बहुत ज़रूरी है |

नए bloggers एक बहुत बड़ी गलती करते है की वो किसी भी कीवर्ड पर article लिखना शुरू कर देते है | वो यह नहीं देखते की उस कीवर्ड को कोई भी google या internet पर search भी कर रहा है या नहीं और नतीज़तन उनके blog के ऊपर traffic नहीं आता और वो blogging छोड़ देते है | इस वजह से उनका post कभी भी google पर रैंक नहीं करता है और उनके blog पर कोई नहीं आता |

आपको keyword research करके देखना है की आखिर लोग कौन से keywords google या internet पर सर्च कर रहे है | आपको अपना article, viewer को ध्यान में रख कर लिखना है और उस अनुसार कीवर्ड का इस्तेमाल करना है | आपको अपना ही blog एक reader की तरह पढ़कर देखना होगा की आप उसमे क्या और सुधार करके लोगों को फायदा दे सकते हो |

अब आपके दिमाग में ये बात बिलकुल साफ़ हो गयी होगी की कभी भी सिर्फ अपनी मर्ज़ी से न लिखे बल्कि ऐसे लिखे की पढ़ने वाला खुश होकर आपके ब्लॉग का फैन बन जाये और बार बार आये| तो चलिए बिना देरी किये जानते है की keyword kya hai ?


Keyword kya hai ?-( What is Keywords in hindi )

keyword kya hai

What is Keyword meaning in hindi ?

Keyword की परिभाषा है कि यह वह शब्द, वाक्य या phrase जो लोग गूगल पर लिखते हैं , जिसके बारे में वह जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। जैसे- आज के खेल समाचार, रोटी कैसे बनाएँ, भारत का इतिहास, आदी।

जैसे अगर आप इसी article में देखो तो “Keyword kya hai ” एक phrase है जिसे हम SEO की भाषा में कीवर्ड कहते है | अगर आप blogging में नए -नए आये हो तो आपको एक उदहारण समझ में आ जायेगा | मान लीजिये आपको जानना है keyword के बारे में तो आप” keyword kya hai” या “keyword research kaise kare ? “लिख के google पर search करेंगे | तो “keyword kya hai” और “keyword research kaise kare? ” आपके search किये हुए keywords है |

Google पर ऐसे ही रोज़ लाखों keywords सर्च होते है | यह बिलकुल भी ज़रूरी नहीं की आपका blog सिर्फ एक keyword पर रैंक करें , वो multiple related keywords पर भी rank कर सकता है |

Keyword एक phrase या word या कोई question भी हो सकता है | यानी की keyword वो सब कुछ है जो कोई google या internet पर सर्च करता है | आपको उन keywords को ढूंढना है और उस पर अपना post rank करवाना है | आपको एक phrase को target करना होगा और उस पर रैंक करना होगा , तब आपके blog पर traffic आएगा | इसी phrase को हम target keyword कहेंगे |


Keyword और niche में अंतर ?..

पिछली बार हमने बताया था कि niche क्या होता है और उसे कैसे खोजें।

अगर आप niche और keyword में उलझ गए हैं तो मैं आपको बताता हूँ कि दोनों में क्या अंतर है।

Niche हमारे पूरे ब्लॉग का टॉपिक होता है,  हमें इसके बारे में ज्ञान होना चाहिए ताकि हम इस पर बहुत सारे लेख लिख सकें।

अगर आप जानना चाहते है की blog के लिए blog niche कैसे चुने ?तो आप यह post पढ़ सकते है |

Keyword हमारे लेख का टॉपिक होता है। हम Google को सीधा- सीधा अपने keyword के बारे में नहीं बता सकते, इसलिए हम इसे अपने लेख में कई बार लिखते हैं। 

जब कोई इंसान उस keyword को गूगल पर लिखता है तो हमारा लेख सामने आता है। 

पर उस keyword का बहुत लोगों ने उपयोग किया होगा इसलिए उन सब से ऊपर आने के लिए हम SEO का इस्तेमाल करते हैं।


SEO के लिए कीवर्ड क्यों ज़रूरी है ?What is Keyword in SEO in hindi ?

आपके blog का जितना अच्छा on page SEO होगा , उसकी ranking भी उतनी अच्छी होगी | On page SEO अच्छा करने के keywords का बहुत बड़ा योगदान होता है | इससे आपका Search Engine Results Page में article के रैंक करने की chances बढ़ जाती है |

अब सबसे बड़ा सवाल यह होता है की ” अगर आपने कोई नया post डाला है तो google कैसे पता करेगा की वो article किस विषय पर है ?”

इसका आसान जवाब है keywords की मदद से | अगर आप अपने पोस्ट में उन keywords का use कर रहे हो जो लोग सच में google पर search कर रहे है तो आपकी website google पर आराम से रैंक कर जाएगी | अच्छे keywords का इस्तेमाल करने से आपके website का OnpageSEO काफी अच्छा हो जाता है |

Searchengine को अपने blog के विषय में बताने के लिए आपको कीवर्ड का बहुत अच्छे से इस्तेमाल करना होगा | जो आपका target keyword है वो search engine को बताता है की आपकी post किस बारे में है | Google आपकी post को पूरा analyse करता है की आपने कौन से keywords का उपयोग किया है और फिर पता लगता है की post किस topic पर है | उस हिसाब से आपके post को rank करता है |

इसके बहुत सारे फायदे भी होंगे जैसे आपकी website का traffic बढ़ने लग जाएगा | आपके article google में रैंक करने लग जाएंगे | आपकी website की ranking भी बढ़ने लगेगी | इसलिए SEO friendly post लिखने के लिए आपको सही keywords का इस्तेमाल करना होगा |


Types of Keyword in Hindi

keyword kya hai

अब आपको पता चल गया होगा की keywords SEO का एक अहम part है | अब जानते है की कितने प्रकार के keywords होते है | Keywords mainly 3 तरह के होते है |

Short tail keywords (Generic keywords )

जब हम single term या 1 -2 words को keywords की तरह इस्तेमाल करते है तब उसे short tail keyword कहा जाता है | यह बहुत ही broad category group को represent करते है और इसलिए आपको इन कीवर्ड से किसी specific चीज़ के ऊपर जानकारी मिलना मुश्किल होता है | आपको उदहारण की मदद से अच्छे से समझ आ जायेगा| जैसे:-

“Books” “Shoes ” “Clothes ” “Blogging “

आप उदहारण के माध्यम से समझ सकते है की अगर कोई user ,information चाहता है “Jeans for men “लेकिन google में डालता है सिर्फ “jeans ” तो शायद उसे अपनी इच्छा अनुसार results न मिले |

Short tail keywords का search volume बहुत ही ज़्यादा होता है लेकिन इन keywords का competition भी उतना ही ज़्यादा होता है | अगर आप एक newblogger है तो इन keywords पर rank करने की कोशिश बिलकुल भी न करे | क्यूंकि इन सभी keywords पर authority websites रैंक करती है मतलब की वो websites जो बहुत पहले से blogging कर रही हो और google उनपर trust करता हो |

Medium tail keyword

जब हम 3 -4 words को keyword की तरह इस्तेमाल करते है तब उसे medium tail keyword कहा जाता है | यह एक semi-broad topic होता है किसी भी बड़े niche में |इन keywords से आपको एक broad category के subpart की information मिल सकती है | जैसे :-

“shoesformen ” “selfhelpbooks ” “clothes for party ” “bloggingforbeginners “

जब आप इन keywords पर search करोगे तो ज़्यादा relevant results मिलने के chances बहुत ज़्यादा बढ़ जाते है | Medium tail keywords पर traffic short tail keywords के मुकाबले कम होता है लेकिन फिर competition भी उस हिसाब से कम होता है | आप इन keywords पर rank कर सकते हो अगर आप 2 -3 साल blogging करते हो |

Long tail keywords

जब आप 5 -6 words या उससे ज्यादा को मिलाकर एक phrase keyword बनाते हो तब उसे long tail keyword कहते है | अगर आप एक new blogger हो तो आपको अच्छे से keyword research करके ऐसे long tail keywords निकालने है जिन पर आप rank कर सके | जैसे की :-

“shoes for men under 2000 ” “self help books in personal finance” ” 3 piece suit for party”

दुसरे शब्दों में अगर आप एक new blogger हो तो आपको long tail keywords को ही target करना है | हमेशा कोशिश करे की long tail keywords पर लिख पाए क्यूंकि इन पर rank करना आसान होता है | उदहारण से आपको समझ आ गया होगा की long tail keywords से आपको काफी specific information मिलती है | इससे आपको relevent results मिलने के chances बढ़ जाते है |

Long tail keywords का volume बहुत कम होता है और competition भी लेकिन यह बहुत ही targeted keyword होते है | आपको पहले अपना blog, long tail keywords पर rank है , उसके बाद medium tail keywords को टारगेट करे |


What is Keyword Research in hindi ? (Keyword Research क्या है ?)

keyword research kaise kare

हर blogger को एक अच्छा keyword जिसपर volume ज्यादा हो लेकिन competition कम ढूंढने में बहुत मुश्किल आती है | तो इसी चीज़ से पता चलता है की keyword research एक process है जिसके द्वारा आप उन keyword को ढूंढते है जो लोग google पर search करते है |

आपका main उद्देश्य अपने blog को उन keywords पर rank करने का होता है जिससे आपकी website पर traffic बढे और earning हो | Keyword Research onpageSEO का एक बहुत ही एहम हिस्सा है | अगर आपको जानना है की On Page SEO in hindi के बारे में ?


Keyword Research kaise kare ?

Keyword Research के लिए आपको बहुत सारी चीज़ो का ध्यान देना होगा | आपको कोई भी tool यह नहीं बता सकता की कौन सा keyword अच्छा है | Keyword खोजने के लिए आपको खुद बहुत मेहनत करनी पड़ती है |

आइये देखते है keyword खोजते वक्त आपको किन किन चीज़ों का ध्यान रखना है:-

  • SearchVolume :- इसका मतलब है की कितने लोग उस keyword को google पर जा कर खोजते है | जितने ज्यादा लोग उस keyword को खोजते है ,उतने ज्यादा traffic आपकी website पर आने के chances बढ़ जाते है |
  • LongTail Keywords :-अगर आप एक नए blogger है तो आपको उन keywords पर काम करना जिनपर competition एकदम कम हो , तभी आपको लाभ मिलेगा | इसलिए आपको Long Tail Keywords का ध्यान रखना होगा |
  • Competition :- नए bloggers को हमेशा lowcompetition वाले keywords पर काम करना चाहिए |इससे आपकी website के rank होने के chances बढ़ जाते है |
  • Related Keywords (LSI Keywords ):-आपको अपने content में एक ही keyword का प्रयोग बार-बार नहीं करना | अपने main keyword से related दुसरे keywords का उपयोग करे जिससे आपकी website multiple keywords पर rank हो जाये |
  • CostPerClick :- आपको हर keyword पर लिखने के पैसे google adsense नहीं देता है | इसलिए जिस भी keyword पर काम करे ,उसे check कर ले |

तो अभी आपने देखा की “What is keyword research in hindi ?“अब हम देखते है “Keyword research tools in hindi


LSI keywords क्या है ? What is LSI keywords in hindi

LSI का fullform LatentSemanticIndex होता है | Google आपके post को rank करने से पहले spiderbots की मदद से crawl करता है ताकि जान सके की जिन keywords का प्रयोग किया गया है content उससे related है या नहीं |

अब कई बार users, google पर main keyword से related बहुत से phrases लिख के search करते है | उन side phrases को ही LSI keywords कहा जाता है | इसलिए आपको अपने main keyword से related LSI keywords का भी उपयोग अपने post में अच्छे से करना होगा |

अगर आप अपने post में बार -बार वही keywords repeat करते रहेंगे तो google को वो natural नहीं लगेगा और वह उसे keword stuffing मान लेगा जो की आपकी website के SEO के लिए अच्छा नहीं है | Google का crawler आपकी website पर LSI keywords को भी खोजेगा ,इसलिए आपको अपनी post की subheading में LSI keywords का इस्तेमाल करना है जिससे वह post google में rank कर सके |

LSI keywords को “searches related to” भी कहते है | अब आपको यह LSI keywords मिलेंगे कहाँ ? मेरे पास इसका भी जवाब है |

  • LSI graph
  • Google search में सबसे नीचे

Keyword Density क्या है ?(Keyword Density kya hai )

KeywordDensity का मतलब होता है की आपने एक keyword अपने article में कितनी बार use किया है | आपके पूरे textlength के मुकाबले आपने कितनी बार उसे keyword का प्रयोग किया है | जैसे के :-

अगर आपने 1000 शब्दों के article में अपने keyword 10 बार प्रयोग किया है तो आपकी article की keyword Density 1% हुई | वैसे तो high keyword density SEO के लिए अच्छा होता है , लेकिन अगर आप एक ही keyword को unnatural तरीके से बार-बार अपने article में डाल रहे हो तब यह बहुत गलत है |

आपको यह कोशिश करनी है की आपके आर्टिकल में keyword density न ही बहुत ज़्यादा और न ही बहुत कम | दोनों ही cases में आपका blog रैंक नहीं कर पाएगा | आपको अपने सारे keywords मिला के keyword density कुछ 1 -2 % के बीच में रखना है और कोशिश करें की अपने post में LSI keywords का अच्छे से प्रयोग करें |

Keyword stuffing kya hai ?

Keywordstuffing का मतलब होता है जब आप एक ही keyword को unnatural तरीके से अपने article में बार -बार डालते हो | अगर आप ऐसा करते हो तो google आपकी website को कभी rank नहीं करेगा | Google के crawlers आपकी website पर keywords भी crawl करते है,यह जानने के लिए की कही इस blog में keyword stuffing तो नहीं हो रखी |

Searchengines को पता होता है की आपका page कौनसे keywords पर rank कर रहा है , अगर आप keyword stuffing की कोशिश करते है तो वो आपकी ranking नीचे कर देगा | इसलिए Keyword stuffing से बच के रहिए |


Keyword Placement कैसे करें ?( कीवर्ड् का इस्तेमाल कहाँ करें ?)

keyword kya hai , keyword research kaise kare, कीवर्ड

आप अपने postमें keywords कहीं भी नहीं लिख सकते है | आपको उन्हें एकदम natural तरीके से अपने article में डालना होगा नहीं तो googleउसे keyword stuffing समझ के आपके blog को कभी भी rank नहीं करेगा |

कीवर्ड् को एकदम सही jagah लिखना जिससे वह एकदम natural लगे एक कला है , जो कोई भी blogging करते -करते सीख जाता है | अभी हम आपको बताएँगे की आपको अपने keywords का प्रयोग कहाँ-कहाँ पर करना चाहिए |

  • Main keyword को heading में लिखे
  • ImageAltText में keyword का उपयोग करे
  • अपनी subheadings में keywords का इस्तेमाल करे
  • Article के पहले paragraph में keyword डाले
  • Meta Description में Keywords का इस्तेमाल करे

आपको इन सभी जगह पर keyword का प्रयोग करना है | इसके अलावा अगर आपको जानना है की आप अपने पेज का OnPageSEO कैसे सुधार सकते है तो आप पढ़ सकते है “How to do On-Page SEO in hindi ?” इस article को पढ़ने के बाद आपको और अच्छे से समझ आ जाएगा |


KeywordResearch के लिए tools ?

keyword density , keyword stuffing ,keyword research tools

Free Keyword Research tools

Explodingtopics.com

यह tool मैंने खुद बहुत बार इस्तेमाल किया है। यह हमें पहले ही संकेत दे देता है कि कौन सा टॉपिक आगे मशहूर होने वाला है और हम इससे अपने keyword का idea ले सकते हैं।

Keyword Generator

यह tool आपको कीवर्ड के साथ- साथ यह भी बताता है कि इसको एक महीने में कितने लोग ढूँढ़ते हैं और इसका competition ज़्यादा है या कम है। यह एक बेहतरीन औज़ार है।

Ubersuggest

Ubersuggest एक माननीय एवं बड़े ब्लॉगर, “NeilPatel “, का है। 

यह tool आपको keyword के साथ- साथ यह भी बताता है कि उस keyword को कितने लोग गूगल पर ढूँढ़ते हैं, उसे रैंक करना कितना कठिन है और उस पर सबसे अच्छा आर्टिकल किसने लिखा है।

ज़्यादातर लोग सबसे अच्छे आर्टिकल से अच्छा अपना आर्टिकल बनाने की कोशिश करते हैं ताकि वे उससे ऊपर आ सकें। उस आर्टिकल को हम अपना प्रतिद्वंद्वी/Competitor कहते हैं।

पर सावधान , इसका मतलब यह नहीं है कि आप उनका लेख चेप कर अपने ब्लॉग पर लिखें, इससे आपके ब्लॉग पर रोक लग सकती है।

Paid Keyword Research tools

Moz

यह एक कमाल का औज़ार है। वैसे तो यह ख़रीदा जाने वाला औज़ार है पर आप इसे एक महीने में फ्री में 10 keywords तक खोज सकते हैं। 

SEMRush

इसके बारे में बताने से पहले मैं आपको एक चीज़ बताता हूँ। 

मैंने आपको शुरू में बताया था कि हम गूगल को सीधा अपने keyword के बारे में नहीं बता सकते क्योंकि उसे बताने का कोई तरीका ही नहीं है। इसलिए हम अपने keyword को बार- बार अपने लेख में लिखते हैं, जिसे गूगल समझ लेता है।

अब Semrush ऐसा औज़ार है जो हमारे प्रतिद्वंद्वी का keyword हमें सीधा ही बता देता है। पर यह पूरी तरह से paid है, इसे कुछ समय के लिए फ्री में इस्तेमाल करने के लिए इसमे क्रेडिट कार्ड की जानकारी भरनी पड़ती है।

Ahrefs

यह बहुत ही बेमिसाल औज़ार है। इससे आसान औजार आपको keyword खोजने के लिए कहीं नहीं मिलेगा। यह सिर्फ मैं नहीं, बहुत से लोग कहते हैं। इसे मैं भी इस्तेमाल करता हूँ। 


निष्कर्ष (Conclusion)

आखिर में आपको यही कहूँगा कि कीवर्ड research बहुत महत्वपूर्ण है, इसे बड़ी मेहनत और ईमानदारी के साथ करना। और एक फिरसे कहता हूँ की long tail keywords को टारगेट करे |

आज हमने सीखा,

  1. Keyword kya hai ?-( What is Keyword in hindi )
  2. Keyword और niche में अंतर ?..
  3. SEO के लिए कीवर्ड क्यों ज़रूरी है ?
  4. Types of Keyword in Hindi
  5. LSI keywords क्या है ? What is LSI keywords in hindi
  6. Keyword Density क्या है ?(Keyword Density kya hai )
  7. Keyword Placement कैसे करें ?( कीवर्ड् का इस्तेमाल कहाँ करें ?)
  8. What is Keyword Research? (Keyword Research क्या है ?)
  9. Keyword Research kaise kare ?
  10. KeywordResearch के लिए tools ?

हमें अच्छा लगा कि आपने हमारा आर्टिकल पढ़ा। आप हमें comment के माध्यम से अपने विचार बता सकते है ताकि हम अपने posts निरंतर बेहतर कर सकें | अगर आपको समझने में कोई भी परेशानी आ रही है तो आप हमें email कर सकते हैं या कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं|

आप हमारा article अपने socialmedia पर भी share कर सकते है जैसे facebook आदि |

धन्यवाद

Leave a Comment