Firewall kya hai? Firewall types and advantages।

Hey people, blogseva पर आपका स्वागत है। आज मैं आपको बताऊँगा कि firewall kya hai (firewall in hindi)।

Internet security एक important term है। रोज़ बहुत से लोग viruses, brute force hacking, worms, phishing attacks, botnets, scams का शिकार होते हैं जिसमें hacker दूसरों की security को bypass करते हैं और फिर सारा data चुरा लेते हैं।

इसके लिए Google और ऐसी बड़ी- बड़ी companies बहुत से कदम उठाती हैं कि users का data बच सके और security बनी रहे, पर उसके बाद भी hackers और viruses कोई नया तरीका ढूँढ ही लेते हैं।

इसलिए हमें self security के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। हमें खुद ही steps लेने पड़ेंगे ताकि हम अपनी information को safe रख सकें।

इसमें हमारी मदद करते हैं-

आज हम जानेंगे firewall kya hai(firewall in hindi), firewall के advantages, disadvantages और यह कैसे काम करता है।


Firewall kya hai? Firewall in hindi

Firewall kya hai

Firewall एक network security system है जो एक private network को bad traffic से बचाता है। Bad traffic मतलब hackers, viruses, malware आदि जो internet से आते हैं।

जिस network की यह रक्षा करता है वह हो सकते हैं- 

  • आपका computer, 
  • एक company के बहुत सारे connected computers, 
  • आपके घर में सभी connected computers आदि।

Firewall एक लक्ष्मण रेखा की तरह होता है जो बुरी चीजों को बाहर रखता है और important चीजों को अंदर safe रखता है।

यह कुछ rules के मुताबिक check करता है कि कौनसा traffic अच्छा है और कौनसा बुरा। 

Also Read: Internet speed fast kaise kare?

Also Read: Dream11 se paise kaise kamaye?


Firewall history

Firewall का इस्तेमाल 1980s में शुरू किया गया था जब इन्हें packet filters कहा जाता था और यह computer में internet से आने जाने वाली information को check करते थे।

धीरे- धीरे technology बढ़ने लगी और अब यह पूरे computer network की रक्षा करते हैं।

1993 में Gil Shwed ने Firewall-1 का आविष्कार किया और दुनिया के सामने रखा। आज 28 साल बाद Firewall cyber security के साथ- साथ और भी features प्रदान करते हैं, जैसे-

  • Network threat से बचाव
  • Application और identity based control
  • Scalable performance
  • Hybrid cloud support

How Firewall works

अब मैं आपको बताऊँगा कि firewall कैसे काम करती है। Firewalls बहुत तरह की होती हैं, पर सबका एक common function होता है।

यह internet से जो data आता है उसमें malware या virus को detect करती हैं, और फिर data को filter करके आगे computer network में भेज देती हैं।

इसके इलावा firewall कुछ basic functions भी perform करते हैं जैसे VPN(Virtual Private Network) और NAT(Network address translation)।

इनकी मदद से एक device का IP address छुप जाता है। Internet से connected हर device का IP address होता है जैसे computer, phone आदि।

IP address छुपने से ज़्यादा security मिलती है।


Types of Firewall

Packet filtering

Packet filtering firewall check करती है कि internet से data किस IP address से आ रहा है। Internet से connected हर mobile, computer, printer आदि का IP address होता है।

यह check करता है कि data कहाँ से आ रहा है।


Circuit level

Circuit level firewalls TCP handshake को control करती हैं। TCP handshake मतलब जब हमारा data internet पर exchange होता है।

Circuit level firewall check करता है कि यह data सही है या गलत।

Also Read: Blogging kya hai? Aur kaise kare?


Proxy firewall in hindi

Proxy server firewall हमारे computer की identity को छुपा देती है और अपने आप को उसकी जगह रख देती है।

इससे proxy firewall को ज़्यादा control मिल जाता है। यह best firewall भी मानी जाती है।


Next generation firewall in hindi

Next generation firewall ज़्यादा advanced, ज़्यादा secure और कम time लेने वाली firewalls होती हैं।

यह advanced malware और threats को block करती है।

जहाँ लोगों को एक threat जाँचने में 100-200 दिन लगते हैं, यह उसी threat को seconds में जाँच लेता है। 


Stateful inspection firewall in hindi

Stateful inspection firewall ज़्यादा गहराई से packet filtering करती हैं। 

यह data को बार- बार check करती हैं और यह self learning firewalls होती हैं।

जहाँ बाकी firewalls सिर्फ कुछ rules के मुताबिक data को filter करती हैं, यह firewall गलत data को समझती है और अगली बार अगर कोई वैसा ही data जाने की कोशिश करता है तो उसे रोक लेती हैं।


कौनसी firewall चुनें?

तो, आपके के लिए कौन सा firewall सही है?

  1. साधारण packet filtering या circuit level gateway, जो हल्की protection देते हैं पर computer की performance अच्छी रहती है?
  1. Stateful inspection जो ऊपर के दो options से अच्छा है, पर इससे computer की performance कम हो जाती है? या
  1. Proxy या next-gen firewall जो powerful है, महंगा है और इससे performance पर ज़्यादा effect पड़ता है?
पर असली सवाल तो यह है कि "क्या आपको केवल एक ही firewall इस्तेमाल करनी चाहिए?"

कोई भी firewall, चाहे वह कितनी भी मजबूत क्यों न हो, आपकी सुरक्षा के लिए कभी भी काफ़ी नहीं होगी। ज़्यादा सुरक्षा के लिए, आपको कई firewalls जोड़नी होंगी। जैसे, आप network के बाहर hardware या cloud firewall लगा सकते हैं, और आपके हर एक system पर software firewall ।

ज़्यादा firewalls होने से ज़्यादा security बढ़ जाती है क्योंकि hackers को information तक पहुँचने में ज़्यादा काम करना पड़ता है।

आप कौनसी firewall use कर सकते हैं, यह depend करता है, आपकी network capabilities पर, आपकी requirements पर और आपके resources पर।


Advantage of firewall in hindi

  • यह data को protect करती है।
  • Malware और trojans से बचाती है। अगर एक virus हमारा system infect कर देता है तो हज़ारों- लाखों का खर्चा आ सकता है, इसलिए कुछ पैसे खर्च करके एक firewall की खरीद लें।
  • Extra security प्रदान करती है। Antivirus हमारे device के अंदर जो virus आता है उससे लड़ता है, पर firewall उसे बाहर ही रोक देता है।
  • Privacy प्रदान करता है। कुछ firewalls की मदद से हम अपना IP address completely छुपा सकते हैं जिसर privacy बनी रहेगी।

Also Read: Flipkart affiliate marketing से मैंने 4 लाख कमाए


Disadvantage of firewall

  • Firewall हमें network के बाहर के खतरे से बचा सकती है पर अगर network के अंदर ही malware हो तो नहीं बचा सकती।
  • Firewall जितनी secure होती है उतनी ही महंगी होती है।
  • Firewall हमें सिर्फ internet से बचा सकती है पर pendrive, CDs आदि से आये virus से नहीं बचा सकती।
  • Firewall की maintenance में ज़्यादा manpower और खर्चा लगता है।
  • Firewalls की वजह से slow speed भी हो सकती है।

Great Firewall of China

Firewall सिर्फ sensitive data की सुरक्षा के लिए ही नहीं हैं। कई strict nations में, यह informational data को भी block कर सकती है, जिनसे public उन IP addresses/sites तक पहुँच न सके जिन्हें govt ने मना कर रखा है। China की “great firewall” इसका एक example है: यह nation- wide firewall कई परतों से बनी है और सरकारी कर्मियों द्वारा control की जाती है।

अगर कोई आदमी इन blocked websites पर जाना चाहता है तो यह firewall उस आदमी को redirect करके दूसरी site पर ले जाती है। इसमें IP address blocking और Dns cache poisoning का उपयोग होता है। China में ज़्यादातर vpn भी blocked हैं और लोगों को govt approved VPN ही use करना पड़ता है।

इससे China अपने नागरिकों पर कड़ी नजर रखता है।


Conclusion

मुझे उम्मीद है कि आपको समझ आ गया होगा कि firewall kya hai(firewall in hindi )। अगर आपको यह article पसंद आया तो आप इसको अपने प्रियजनों के साथ जरूर share कीजिएगा। 

आज हमने सीखा-

  1. What is firewall in hindi
  2. Firewall kya hai (firewall in hindi)
  3. Firewall advantages
  4. Firewall working
  5. Types of firewall

Firewalls को बिल्कुल भी underestimate नहीं करना चाहिए यह बहुत security प्रदान करती हैं।

आप का experience कैसा रहा आप उसे नीचे comment box में share कर सकते हैं और अगर आपको कोई doubt या problem है तो आप मुझसे नीचे comment box में पूछ सकते हैं या email कर सकते हैं।

में आपको जल्द से जल्द reply देने की कोशिश करूँगा। 

धन्यवाद……..।


FAQ (Frequently Asked Questions)

1. Firewall meaning/ firewal definition

Firewall एक software होता है जो एक device को virus, malware, trojans आदि से बचाता है ताकि device को कोई harm न पहुँचे।

2. Firewall का नाम कैसे पड़ा?

Firewall का नाम real world fire walls से मिला है जो buildings में लगाई जाती हैं ताकि आग इन ऊँची walls की मदद से रुक सके।

3. Firewall is a type of?

Firewall is a type of network system security software।

4. Types of firewall

1. Packet filtering
2. Circuit level firewall
3. Proxy firewall
4. Next generation firewall
5. Stateful inspection firewall

5. Firewall क्यों जरूरी है?

Firewall बहुत protection प्रदान करती हैं। इनके बिना hackers आराम से हमारे data को हमारे system में घुसकर data चुरा सकते हैं। और यह data सिर्फ files, folders ही नहीं बल्कि हमारी bank details भी पता लगा सकते हैं।

एक study के अनुसार एक server के online होते ही करीबन 52 seconds में hackers कोशिश शुरू कर देते हैं।

6. फ़ायरवॉल के लाभ

1. यह data को protect करती है।
2. Malware और trojans से बचाती है।
3. Extra security प्रदान करती है।
4. Privacy प्रदान करता है।

7. How does a firewall work?

Firewall internet से आ रहे data को filter करती है और malware को बाहर ही shut कर देती है।

8. Firewall softwares

1. FortiGate
2. Sophos XG Firewall
3. Check Point Next Generation Firewalls
4. Huawei Firewall
5. WatchGuard Network Security
6. GlassWire Firewall
7. Cisco
8. Avast

9. अपने computer/ phone को secure कैसे करें?

अपने computer/ phone या device को secure करने के लिए- 
1. Strong passwords का इस्तेमाल करें
2. Public wifi से कभी connect मत करें
3. Create Backup regularly
4. Update browser
5. Clear browsing history
6. Autocomplete passwords का इस्तेमाल न करें
7. जिन malware sites पर जाना आपकी मजबूरी है वहाँ vpn इस्तेमाल करें।

10. अपने computer/phone को virus से कैसे बचाएँ?

अपने computer/ phone को virus से बचाने के लिए इन चीजों का इस्तेमाल करें-
1. Firewall
2. Antivirus
3. Anti-spyware

Leave a Comment