Blog kya hai और blogging kaise kare in 2021?

नमस्कार दोस्तों, blogseva.com पर आपका स्वागत है। आज मैं आपको बताऊँगा कि blog kya hai और blogging kaise kare

मैं यह भी बताऊँगा कि नया blog kaise banaye और blog को बनाने में कितने पैसे लग सकते हैं।

अगर आपको आपको लिखना पसंद हैं, दूसरों को अपने ख्याल बताने में ख़ुशी मिलती है और एक अच्छी dream life चाहते हैं तो आपको blogging ज़रूर करनी चाहिए।

आपको किसी degree की ज़रूरत नहीं, न कोई age limit है, आप घर में बैठे- बैठे अगले 30 min में blogging शुरू कर सकते हैं। आपको चाहिए बस एक phone/laptop और internet connection. 

ज़्यादातर लोगों को लगता है कि इसमें coding और web design की ज़रूरत होगी, पर ऐसा नहीं है। आप बहुत आसानी से बिना coding के एक professional blog बना सकते हैं

चलिए जानते हैं कि blog kya hai और blogging kaise kare in hindi।


Blog kya hai? Blog क्या है?

Blog kya hai

Blog kya hai?

Blog (weblog) एक online journal or informational website है। इसमें आप posts लिखते हैं और दुनिया को अपनी जानकारी प्रदान करते हैं। आप किसी भी एक topic के बारे में लिख सकते हैं।

फिर उन posts को google के first page (serp) में rank करके high traffic (high number of clicks) ला सकते हैं जिससे आप कई तरीकों से पैसे कमा सकते हैं।


Blog terms

अब जानते हैं ब्लॉग लेखन क्या है और blog meaning in hindi। What is blog meaning in hindi?

Blog– एक informational website जिससे आप जानकारी ले सकते हैं। 

Blogging– Blog बनाना, blog post लिखना, seo करना, उसकी marketing करना, इस process को blogging कहते हैं।

Blogger– जो आदमी blog बनाता है और blogging करता है उसे blogger कहते हैं।

Blog post– एक blog पर बहुत सारे blog posts होते हैं, जिन्हें article भी कहते हैं। एक topic पर article लिखकर आप उसे rank करा सकते हैं।


Types of blogging

Hobby– कुछ लोग blogging free time के लिए करते हैं जैसे online journal बनाना, उसमें अपने interests लिखना आदि। ऐसे blogs free में बनते हैं। यह Google पर rank नहीं होते।

Professional blogging– इसमें लोग professional blog बनाते हैं, proper seo करते हैं, दिन रात मेहनत करके, posts google पर rank करते हैं, फिर उससे पैसे कमाते हैं।


Blogging क्यों करें?

Blog के फायदे:

Blogging करने का सबका main goal यही होता है कि उससे पैसे कमा सकें। पर सफल वही होते हैं जो blogging करते वक्त पैसे के बारे में नहीं सोचते। हमें यह सोचना है कि हम कैसे लोगों की मदद कर सकते हैं।

Blogging के लिए एक ही कहावत है, “अपना कर्म करते चलो, अंत में फल ज़रूर मिलेगा और जब मिलेगा तो छप्पर फाड़के मिलेगा।

Blogging शुरू करने के अलग- अलग कारण हो सकते हैं-

  1. आप अपना business blog के ज़रिए promote कर सकते हैं। वहाँ से customers को ला सकते हैं, उनको products और services बेच सकते हैं।
  2. अगर आपका कोई business नहीं है तो आप online store शुरू कर सकते हैं, जैसे amazon, flipkart आदि।
  3. Blog posts लिखकर google adsense से, Affiliate marketing से पैसे कमा सकते हैं।
  4. अपनी skills जैसे photography, travelling, music, cooking आदि के बारे में लोगों को बता सकते हैं।
  5. लोगों को news, facts, stories आदि बता सकते हैं।
  6. आप एक influencer बन सकते हैं, इससे आपको fame मिलेगी और आपकी face value बढ़ जाएगी।

AlsoRead : Instagram से पैसे कैसे कमाएँ?


Blog structure

एक blog post का structure कुछ ऐसा होता है-

Header में menu, site name, logo आदि आते हैं। यह हर page, article के top पर दिखता है।

Main content में text, images, videos आदि आता है जिसके बारे में लिख रहे हैं।

Sidebar में recent posts, social profiles, आदि आते हैं।

Footer में social profiles, contact form, disclaimer, privacy policy आदि आते हैं।

Blog structure

Phone screen पर यह structure change हो जाता है और sidebar Main content और footer के बीच में आ जाता है।


Blogging का future

एक blogger हर महीने ₹30k से लेकर ₹1 करोड़ तक कमा सकता है।

पर क्या इसका मतलब है कि blogging से जल्दी अमीर बन सकते हैं?

जवाब है –  नहीं95% लोग blogging से इसलिए जुड़ते हैं क्योंकि उन्होंने कहीं सुना, पढ़ा या देखा होता है कि कोई blogger लाखों कमा रहा है और नई गाड़ियाँ ले रहा है।

पर इसके पीछे उसने हज़ारों घण्टों की मेहनत करी होती है। किसी को 6 महीने लगते हैं किसी को 2 साल। सबको लगता है कि वह आसानी से 1 साल मेहनत कर लेंगे, पर बहुत से लोग 3 महीने में ही blogging छोड़ देते हैं।

एक report  के अनुसार रोज़ 2 लाख new blogs बनते हैं पर सिर्फ 8% bloggers ही पैसे कमा पाते हैं।

वे अच्छा content नहीं डालते, seo नहीं करते, और जल्दी हार मान जाते हैं। पर अगर लगातार blogging करते रहे तो ज़रूर सफल होंगे, और जब पैसे आने शुरू होंगे तो वह एकदम से बहुत बढ़ जाएँगे।

India में अभी blogging का Golden time चल रहा है। Hindi blogging को शुरू हुए अभी सिर्फ कुछ ही साल हुए हैं और Google (2018) के अनुसार internet पर hindi में 0.1% से भी कम content है।

साथ में India IT sector और self employment की तरफ काफी तेजी से बढ़ रहा है , जिसका मतलब है कि जिसने अभी एक अच्छा blog बना लिया वह आने वाले सालों में आराम से लाखों में कमाएगा।

AlsoRead : Paytm se paise kaise kamaye?


Blogging essentials

एक blog बनाना facebook के account बनाने जितना आसान है। पर उससे पहले आपको कुछ बातें जाननी होंगी।

हम लोग blog free में भी बना सकते हैं और paid भी।

Free blog लिखने के लिए आपको blogger, tumblr, medium आदि जैसे platforms मिलेंगे। इसमें आपके पास कम controls होंगे, यह beginners के लिए फायदेमंद है।

Free blog बनाएँ step by step, 5 minutes में।

अगर आप blogging में serious हैं, चाहे beginner ही हों, तो आपको paid blog बनाना चाहिए। इसका खर्चा (Rs.1500- Rs. 3500/ per year) तक जा सकता है। Paid blogging के लिए सबसे अच्छा platform है wordpress।

Blog बनाते समय आपको यह 5 चीजें चाहिए होंगी:

  1. Domain name
  2. Web Hosting
  3. Blogging platform
  4. Theme design
  5. Plugins

आपको सरल भाषा में समझाने के लिए हम blog की “घर” से तुलना करते हैं।


Domain name

Domain name

Domain name होता है blog का नाम। जैसे हमारे blog का नाम है- “blogseva.com“।

यह घर का address होता है। इस नाम से लोग आपको internet पर पहचानेंगे और ढूँढ सकेंगे। जैसे किसी के घर तक पहुँचने के लिए घर का पता ज़रूरी होता है,  domain name वही काम करता है।

अगर आप free platform पर blog बनाते हैं जैसे blogger.com, medium.com, wordpress.com तो आपके blog के नाम के पीछे उस platform का name जुड़ जाता है।

जैसे : example.blogspot.com, example.medium.com आदि।

Domain name अलग- अलग companies से खरीद सकते हैं। जैसे-

आप इन companies के reviews यहाँ check कर सकते हैं।


Web hosting

अब आपको अपना घर बनाने के लिए ज़मीन चाहिए। उस ज़मीन पर आप अपना घर बनाओगे और उस घर का सारा  सामान रखोगे। वह जगह जहाँ हम अपना सारा data save करते हैं उसे web hosting कहते हैं

हम अपने blog पर जो भी लिखते हैं, pictures, videos, सब यहाँ store होता है।

Web hosting इन companies से खरीद सकते हैं-

  • Siteground
  • Hostgator
  • GoDaddy
  • Bluehost
  • Hostinger
  • Hostingraja
  • A2hosting

Hosting लेते समय आपको ध्यान रखना है कि company की value हो, उनकी services अच्छी  हों, उनका customer care अच्छा हो।

आपने देखा होगा कि hosting और domain में companies same हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि यह सारी Hosting companies Domain name भी प्रदान करती हैं और ज़्यादातर पहले साल के लिए domain free मिलता है।

AlsoRead : How to write SEO friendly article in Hindi?

AlsoRead : Blog से पैसे कैसे कमाएँ


Blogging platform

Blogging platform
Blogger vs WordPress

Blogging platform वह जगह है जहाँ blog बनाते हैं, लिखते हैं, customize करते हैं। 

दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला blogging platform है WordPress जिसपर 48% blogs बने हैं।

Different blogging platforms हैं:


Theme design

Theme Design blog को सुंदर बनाने के लिए होता है ताकि लोग हमारे blog पर बार- बार आएँ जैसे घर का design और paint।

इससे हम colors बदल सकते हैं, font बदल सकते हैं, design बना सकते हैं आदि।

Themes बहुत अलग-अलग प्रकार की होती हैं जैसे हमारे phone में अलग-अलग background हो सकते हैं। 

Themes free में भी ले सकते है और paid भी-

FREE–  इसका पहला फायदा यह है कि इसका कोई खर्चा नहीं। Free themes को कहीं से भी download कर सकते हैं। जब मर्ज़ी change कर सकते हैं।

इनका नुकसान यह है कि इनमें professional look नहीं होती। अगर आप एक नए blogger हैं और blogging experience करना चाहते हैं तो इसे ही इस्तेमाल करें। 

PAID–  यह काफी अच्छी होती हैं। इन पर पूरा control होता है और यह दिखने में बहुत attractive होती हैं। पर साथ ही साथ यह बहुत महंगी होती हैं। इन्हें भी, कहीं से भी खरीद सकते हैं और कभी भी बदल सकते हैं।

AlsoRead : Off page seo kya hai और  kaise kare in 2021?


Tools and plugins

Tools and plugins

Tools और plugins blog को manage करने में काम आते हैं। जैसे घर के लिए सफाई वाला, security guard, माली आदि।

Tools, Plugin भी यही काम करते हैं। चलिए में आपको कुछ tools के बारे में बताता हूँ-

अब आपको कुछ plugins के नाम भी बता देते है-

यह सब tools और plugins blog को fast, secure, safe, attractive बनाते हैं जिससे articles rank होते हैं।

जैसे अगर आप “best smartphones” search करें, तो यहाँ digit.in पहले स्थान पर है और 91mobiles.com दूसरे स्थान पर।

Digit.in के पहले स्थान पर होने से 31% लोग गए उसपर click करेंगे और 91mobiles पर 16% लोग जाएँगे। इसलिए हमारा target रहता है कि हम अपने blog को पहले स्थान पर लाएँ।

Credits: WiFi Tech

Blog kaise banaye?

Choose topic

सबसे पहले आपको topic चुनना है।

Blog बनाने से भी पहले यह सोचें कि आपका topic/niche क्या होगा, कुछ ऐसा जिसमें आपका interest हो, चाहे आप उसमें professional न हों।

एक ही topic चुनें, multiple topics नहीं।

ऐसा topic चुनें-

  • जिसमें आप excited हों।
  • थोड़ी बहुत जानकारी हो।
  • एक साल बाद भी बिना थके लिख सकते हों।
  • लोग भारी मात्रा में search करते हों।

आजकल broad topics जैसे “fitness” पर competition बहुत बढ़ गया है इसलिए लोग micro niche topics लेते हैं जैसे “keto diet weight loss”।

70+ Niche ideas की पूरी list यहाँ check करें।


Choose blogging platform

इसके लिए पहले यह चुनें कि आपको free blog चाहिए या paid

Free blog में storage, customization, monetization सब limited होते हैं और practically blog को आप own नहीं करते।

इसका solution है paid blog, जिसमें storage, customizations में limitations नहीं, blog professional लगता है, quality अच्छी होती है और सबसे अच्छी बात, पूरे blog को आप own करते हैं

जैसा कि मैंने पहले बताया कि दुनिया में सबसे ज़्यादा use किये जाने वाला blogging platform है wordpress उसके बाद blogger, tumblr, medium आदि।

मैं भी आपको wordpress recommend करूँगा क्योंकि-

  • इसमें सैंकड़ों themes, tools, plugins मिलते हैं।
  • यह regularly update होता है।
  • इसकी support और chat system बहुत fast और efficient हैं।

WordPress Cost

WordPress को लगाने के दो तरीके हैं-

  1. WordPress.com blogging platform से packages खरीदें जिसमें hosting, domain, features का cost include होता है। इसका नुकसान यह है कि कम इसमें google ads नहीं लगा सकते और basic features के भी पैसे देने पड़ते हैं।
  2. Hosting और domain किसी company से खरीदें फिर free WordPress.org software को hosting के साथ attatch करें। यह फायदेमंद option है।

WordPress.com और wordpress.org के बीच अंतर देखें।


Setup web hosting

अगर आप wordpress.com से package लेते हैं तब आपको setup करने की ज़रूरत नहीं क्योंकि उसमें setup पहले से हुआ मिलेगा।

पर अगर आप wordpress.org software चुनते हैं तो आपको किसी company से web hosting और domain खरीदना पड़ेगा।

आप इस list में से कोई भी hosting खरीद सकते हैं।

मैंने hostinger लिया है क्योंकि यह affordable और efficient है।

अगर आप normal blog बनाना चाहते हैं तो normal hosting plan लें, अगर आप बहुत बड़ा online store या website बनाना चाहते हैं जिस पर हर महीने करोड़ों लोग आएँ तो types of hosting पर ध्यान दीजिए।

Hosting खरीदते वक्त आपसे domain name पूछा जाएगा। आप different names try कर सकते हैं।

जब select हो जाये तो payment कर दें। Domain name ज़्यादातर पहले साल के लिए free मिलता है। आप payment से पहले coupon code भी लगा सकते हैं, यह आपको famous youtubers के video description में मिल जाएगा।

बस youtube पर जाकर लिखिए, “आपका hosting company name” + hosting setup

Payment करने के बाद आप wordpress install कर सकते हैं, उसके बाद c-panel/h-panel में settings check कर सकते हैं।

Also Read: Youtube se kaise kamaye?

Also Read: Aaj hi online paise kamaye


Blog setup

जब आपका hosting पूरा setup हो जाए और wordpress install हो जाए तो wordpress के dashboard पर आएँ।

इसके लिए google पर type करें, “domain name.com/wp-admin/” और आपका wordpress dashboard खुल जाएगा। अगर .com  की जगह .in .org .net आदि है तो उसे डालिये।

  1. इसके बाद settings > general settings में आएँ। यहाँ site title और tagline change करें।
  2. Settings > reading पर जाएँ और “Discourage search engines from indexing this site” option को untick कर दें ताकि आपके articles google पर rank को सकें।
  3. Settings > permalinks में जाएँ और “Post name” option को tick करदें ताकि आपके articles का url आपके post name के हिसाब से set होजाए जो seo के लिए अच्छा option है।

Choose theme

Theme

Appearance > Themes में जाएँ और new theme जोड़ें। यहाँ आपको हज़ारों free और paid themes मिलेंगे जिनको आप customize कर सकते हैं।

Theme add करने के लिए पहले “add new” option दबाएँ फिर कोई भी theme चुनें, उसे install करें और activate करें।

Theme activate करने से आपके data में कुछ असर नहीं पड़ेगा इसलिए आप बिना डरे themes change करके check कर सकते हैं।

Theme को customize करने के लिए Appearance > Customize में जाएँ, हर theme के साथ आपको अलग options मिलेंगे जैसे-

  1. Site identity– Blog का title, logo, site icon के लिए।
  2. Colors– Theme में जगह- जगह color change करने के लिए।
  3. Header– Header graphics के लिए।
  4. Background– Blog के background color/ picture के लिए।
  5. Menus– Footer, sidebar customize करने के लिए।
  6. Widgets– Social share buttons, Recent posts, Image gallery, search bar, categories लगाएँ।

Add plugins

Plugins लगाने के लिए Plugins > Add new में जाएँ, plugin खोजें, install करें और activate करें।

कुछ ज़रूरी plugins हैं-

इन सब के बारे में detail में पढ़िए

Plugins को इस्तेमाल कर blogging बहुत stress free हो जाती है क्योंकि कई plugins ऐसे काम करते हैं जिनको रोज़ करना पड़ता है जैसे daily backup।

यह हमारा काम है पर jetpack खुद ही रोज़ backup create कर लेता है इसलिए tension नहीं लेना पड़ता।

दूसरा है yoast seo। अगर हमें on page seo की zero knowledge हो फिर भी yoast seo के सुझावों को पढ़कर हम अपना article पूरा seo optimized कर सकते हैं।

इसलिए plugins ज़रूर लगाएँ।

Also Read: Pubg se kaise kamaye?


Start writing

लिखना शुरू करने से पहले अपने blog पर categories और pages create करें, जैसे अगर “fitness” niche है तो men, women, weight loss, weight gain आदि।

Wp forms की मदद से contact us page ज़रूर बना लें ताकि bloggers आपको guest posting के लिए contact कर सकें।

और एक अपनी bio create करें, अपने बारे में बताएँ जिससे लोग आपको करीब से जान सकें।

Congratulations..!!! 😉

अब आपका blog बन चुका है और आप लिखना शुरू कर सकते हैं। आपको ज़्यादा से ज़्यादा मेहनत करनी है और hard work के साथ smart work भी करना है।

चाहे आप हफ्ते में एक ही post डालें पर ऐसी post डालें  की कोई blog आपका सामना न कर सके। सबसे ज़्यादा content, सबसे ज़्यादा images, links, videos, proofs, faq आदि।

कोशिश करें कि हफ्ते में 2-3 posts डालें 2000-2500 शब्दों की और मैं guarantee देता हूँ साल भर के अंदर आपका blog “top hindi blogs” में आ जायेगा।


Blogging tips

Last में मैं आपको कुछ tips देना चाहूँगा जो मैंने अपने experience से gain किया और जिनको इस्तेमाल करके आप जल्दी अपने blog posts को rank करवा सकते हैं।

No copyright

अगर आप non copyright images इस्तेमाल करना चाहते हैं तो unsplash, pixabay, pexels आदि से download करें।

अगर videos चाहते हैं तो videoblocks से download करें।

अगर खुद graphic design करना चाहते हैं तो canva, photoshop, illustrator आदि से करें।

पर अगर आप किसी blogger दूसरे का content, picture, video आदि इस्तेमाल करते हैं तो आप पर copyright strike लग सकता है।

एक समय पर बच भी जाएँगे पर अगर google adsense activate हो गया तो ज़रूर strike लग जायेगा जिससे adsense account ban हो सकता है।

इसलिए हमेशा non copyright content इस्तेमाल करें।

Unique content

Content हमेशा unique बनाएँ। अगर किसी topic पर google के पहले page पर 10 articles हैं और सबने एक ही content लिखा है तो bounce rate बहुत बढ़ जाएगा और site की ranking कम होगी।

इसलिए ऐसा content बनाएँ जो unique हो और readers को खींच कर रखे

Good relations

आपने competitors bloggers से दोस्ती बनाकर रखें। एक समय पर आपको लगेगा कि हमें उनसे भी तो आगे निकलना है तो दोस्ती करके क्या फायदा पर याद रखें कि हमें backlinks भी उन्ही से लेने हैं।

और दोस्ती सिर्फ फायदे के लिए नहीं पर future में कभी भी काम आ सकती है

Social media

Content तो हम जितना मर्ज़ी लिख लें पर जब तक views नहीं आएँगे तब तक कोई फायदा नहीं। और views लाने के लिए social media पर share करना बहुत ज़रूरी है

Social media के links से लोगों को blog पर लाएँ और blog से social media पर लेकर जाएँ ताकि आपका social media भी strong हो और आप वहाँ से भी पैसे कमा सकें।

Update content

किसी को भी पुराना content अच्छा नहीं लगता। जितनी तेजी से दुनिया बदल रही है उसी हिसाब से हमें भी अपना content update करते रहना चाहिए।

पुराने content का नुकसान यह भी है कि लोग अपनी site से पुराने content वाले backlinks हटा देते हैं।

Single niche

Hindi blogs में शुरू में एक ही niche पर काम करना चाहिए। उसी पर 1-2 साल focus करें और जब blog पर traffic बहुत बढ़ जाएं तो multiple niche blogs start कर दें जिससे traffic बढ़ता चला जाए।

Consistent

Last और सबसे main चीज़। हमें regular article लिखते रहना चाहिए और blogging करते रहना चाहिए।

कम से कम अगर आपने एक साल का domain hosting लिया है तो उसे waste न होने दें। बहुत से लोग यही गलती करते हैं कि वह 2-3 महीने का break ले लेते हैं और बाद में blog को चलाना मुश्किल हो जाता है।

यह मेरे साथ भी हुआ था और traffic लाना बहुत मुश्किल हो जाता है। और यह बात हर blogger कहता है कि content लगातार डालते रहें, उसी से blog जल्दी ऊपर आता है।

Also Read: Gmail kya hai? gmail kaise banaye?

Also Read: Strong password kaise banaye?


Conclusion

मुझे उम्मीद है कि आपको समझ आ गया होगा कि blog kya hai और blogging kaise kare। इसके साथ-साथ हमने यह भी जाना कि blog kaise banaye।

अगर आप चाहते हैं कि भविष्य में आपको blog meaning in hindi और blogging in hindi की जानकारी चाहिए तो हमें follow करें

जैसा मैंने ऊपर बताया कि India में blogging का अभी golden time चल रहा है इसलिए मैं आपसे अनुरोध करूँगा कि एक blog ज़रूर start करें

Blogging के बहुत फायदे हैं, कई bloggers अपना पूरा घर एक blog से चला रहे हैं और कई लोग blog की बदौलत influencers बन चुके हैं।

Blog हर तरह से आपकी मदद करेगा, बस मेहनत करते रहिए और सोच लीजिए कि एक साल तक कुछ पैसा नहीं आएगा पर जब आएगा तब आपकी ज़िंदगी बदल जाएगी।

अगर आपको यह जानकारी पसन्द आयी तो इसे ज़रूर share करें।

धन्यवाद !!..

Blog kya hai, blog meaning in hindi और blogging kaise kare पढ़ने के लिए शुक्रिया।


FAQ (Frequently Asked Questions)

एक Gmail ID से दो blog चला सकते हैं क्या?

जी हाँ, अगर आप blogger(blogspot) पर blog बनाते हैं तो एख ई gmail id से 100 blogs तक बना सकते हैं।
पर wordpress पर आप ऐसा नहीं कर सकते। उसमें एक blog के लिए एक gmail id चाहिए होती है।

क्या एक google adsense account से youtube और blog दोनों को connect कर सकते हैं?

जी हाँ, आप एक adsense account से multiple blogs और YouTube channels को connect कर सकते हैं, बस एक आदमी के लिए एक ही adsense account होना चाहिए।

News blog कैसे बनाएँ? क्या settings करनी ज़रूरी हैं?

News blog के लिए आपको 500 words से अधिक वाले articles रोज़ डालने होंगे। दिन में 6-7 article डालने होंगे, तभी आप rank कर पाएँगे।

क्या blog/website के clicks को count करने का कोई app है?

जी हाँ, आप Google Analytics, Google search console, Ubersuggest आदि से clicks को count कर सकते हैं। जो यह भी बताते हैं कि कौनसे country, device, date, time, से views आ रहे हैं।

Mobile se blogging kaise kare?

Mobile से ही पूरी तरह से blogging शुरू की जा सकती है।
आप blogger या wordpress पर blog शुरू कर सकते हैं। कुछ websites जिनको desktop view चाहिए होता है वह आप अपने phone की google settings में desktop view पर click कर सकते हैं। इससे आपका सारा काम हो जाएगा।

Blog post के लिए images कहाँ से लाएँ?

आप blog post के लिए free images unsplash, pexels, pixabay आदि से ले सकते हैं।

6 thoughts on “Blog kya hai और blogging kaise kare in 2021?”

  1. आपने बहुत ही अच्छी जानकारी दी है, बहुत अच्छे तरीके से हर बात को समझाया है।

    आपकी हरेक बात आसानी से समझ में आ गई है।

    मेरा भी एक blog है, http://www.finoin.com जिसमे Share market and Mutual funds Investment की जानकारी प्रदान किया जाता है।

    Please आप मेरे blog के लिए एक Backlink प्रदान करें।

    Reply

Leave a Comment